ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT

Hindi Poem: Subhadrakumari chauhan hindi kavita jaliawala bagh mein basant | सुभद्रा कुमारी चौहान की कविता : जलियाँवाला बाग में बसंत

Hindi Poem: Subhadrakumari chauhan hindi kavita jaliawala bagh mein basant | सुभद्रा कुमारी चौहान की कविता : जलियाँवाला बाग में बसंत

Hindi Poem : Subhadrakumari chauhan hindi kavita jaliawala bagh mein basant   यहाँ कोकिला नहीं, काग हैं, शोर मचाते, काले काले कीट, भ्रमर का भ्रम उपजाते। कलियाँ भी अधखिली, मिली...

Read more

Adam Gondvi Ki Ghazal/Ghazalen : ज़ुल्फ़-अँगड़ाई-तबस्सुम-चाँद-आईना-गुलाब

Adam Gondvi Ki Ghazal/Ghazalen : Julaf anagdaai tabssum chaand aainaa gulab | ज़ुल्फ़-अँगड़ाई-तबस्सुम-चाँद-आईना-गुलाब

Adam Gondvi Ki Ghazal/Ghazalen : Julaf anagdaai tabssum chaand aainaa gulab ज़ुल्फ़-अँगड़ाई-तबस्सुम-चाँद-आईना-गुलाब भुखमरी के मोर्चे पर ढल गया इनका शबाब पेट के भूगोल में उलझा हुआ है आदमी इस अहद...

Read more

Adam Gondvi Ki Ghazal/Ghazalen : काजू भुने पलेट में ह्विस्की गिलास में  

Adam Gondvi Ki Ghazal/Ghazalen : Kaaju bhune plate mai whiskey glass mai

Adam Gondvi Ki Ghazal/Ghazalen : Kaaju bhune plate mai whiskey glass mai काजू भुने पलेट में विस्की गिलास में उतरा है रामराज विधायक निवास में पक्के समाजवादी हैं तस्कर हों...

Read more
Page 1 of 10 1 2 10

Welcome Back!

Login to your account below

Create New Account!

Fill the forms below to register

Retrieve your password

Please enter your username or email address to reset your password.

Khash Rapat