ADVERTISEMENT

Tag: Chetan anand hindi kavita

चेतन आनंद: झांके है कोई पलपल अहसास की नदी में Chetan anand Hindi Ghazal: Jhaanke hai koi pal pal ahashash ki nadi mai

चेतन आनंद: झांके है कोई पलपल अहसास की नदी में

झांके है कोई पलपल अहसास की नदी में, होने लगी है हलचल अहसास की नदी में।   पानी में जब वो झांके, चांदी-सी चमकी जैसे, उतरा हो जैसे बादल अहसास ...

चेतन आनंद : प्यार कब आगे बढ़ा तक़रार से रहकर अलग, Chetan anand Hindi Ghazal: Pyar kab aage badha takrar se rahkar alag

चेतन आनंद : प्यार कब आगे बढ़ा तक़रार से रहकर अलग,

प्यार कब आगे बढ़ा तक़रार से रहकर अलग, सीढ़ियां बनती नहीं दीवार से रहकर अलग।   रुक गये तो मौत के आग़ोश में आ जाओगे, सांस चलती ही नहीं रफ़्तार ...

चेतन आनंद : आ गये रिश्तों का हम रंगीं दुशाला छोड़कर Chetan anand Hindi Ghazal: Aa gye rishto ka ham rangi dushala chhodkar

चेतन आनंद : आ गये रिश्तों का हम रंगीं दुशाला छोड़कर

आ गये रिश्तों का हम रंगीं दुशाला छोड़कर, अब कहां जाएंगे हम तेरा शिवाला छोड़कर।   कहकहे, सुख-चैन, सपने, नींद, आज़ादी के दिन, क्या मिलेंगे ये तुम्हें सच का उजाला ...

चेतन आनंद : आंगन में तेरा अक्सर दीवार खड़ी करना Chetan anand Hindi Ghazal: Aagan mai tera aksar deewar kadhi karna

चेतन आनंद : आंगन में तेरा अक्सर दीवार खड़ी करना

आंगन में तेरा अक्सर दीवार खड़ी करना कुछ अच्छा नहीं लगता तक़रार खड़ी करना।   सच ये है कि मुश्किल है दीवार खड़ी करना बस ख्वाब में आसां है मीनार ...

चेतन आनंद : उजाले की हुई पत्थर सरीखी पीर को तोड़ें Chetan anand Hindi Ghazal: Ualae ki hui pathar sarkhee peer ko taode

चेतन आनंद : उजाले की हुई पत्थर सरीखी पीर को तोड़ें

उजाले की हुई पत्थर सरीखी पीर को तोड़ें उठो, उठकर अंधेरे की कड़ी प्राचीर को तोड़ें।   नहीं टूटी तो आंखों का समन्दर सूख जाएगा हृदय के पर्वतों से दर्द ...

चेतन आनंद : ऐसा भी कोई तौर तरीका निकालिये Chetan anand Hindi Ghazal: Esa bhi koi taur tarqaa nikalye

चेतन आनंद : ऐसा भी कोई तौर तरीका निकालिये

ऐसा भी कोई तौर तरीका निकालिये। अहसास को अल्फाज़ के सांचे में ढालिये।।   जलता रहे जो रोज़ ही नफ़रत की आग में, ऐसा दिलो दिमाग़ में रिश्ता न पालिये।। ...

Page 1 of 3 1 2 3

LATEST NEWS

Welcome Back!

Login to your account below

Create New Account!

Fill the forms below to register

Retrieve your password

Please enter your username or email address to reset your password.

Khash Rapat